Featured Uncategorized छत्तीसगढ़ जन जीवन बड़ी खबर विविध 

बालोद : बिना लक्षण वाले व बिना किसी पुरानी बीमारी से ग्रसित कोरोना पॉजीटिव मरीजों को घर पर ही होम आइसोलेट रहकर उपचार और स्वास्थ्य लाभ की मिल सकती है छूट – कलेक्टर

बालोद, 01 अगस्त 2020

कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे ने कहा कि शासन के निर्देशानुसार अब जिले में भी बिना लक्षणों वाले व बिना किसी पुरानी बीमारी से ग्रसित कोरोना पॉजीटिव मरीजों को घर पर ही होम आइसोलेट रहकर उपचार और स्वास्थ्य लाभ लेने की छूट मिल सकती है। मरीज को शासन के अनिवार्य प्रोटोकाल का पालन किया जाना आवश्यक होगा। श्री महोबे आज सयुंक्त जिला कार्यालय में आयोजित बैठक में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को इसके लिए पुख्ता इंतजाम व कार्ययोजना बनाने के निर्देेश दिए।  कलेक्टर ने कहा कि मरीज के घर में अलग हवादार कमरें, अलग शौचालय तथा किचन व हॉल के अतिरिक्त न्यूनतम तीन अतिरिक्त कमरा होना आवश्यक है साथ ही घर में कोई भी व्यक्ति बीमार या गर्भवती महिला नहीं होनी चाहिए। कलेक्टर ने बताया कि समस्त एस.डी.एम. व एस.डी.ओ.पी. को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है जो विकासखण्डस्तर पर विभिन्न टीम गठित कर उक्त गतिविधियों का क्रियान्वयन सुनिश्चित करेंगें। उन्होंने बताया कि होम आइसोलेशन में उपचार व स्वास्थ्य लाभ ले रहे कोरोना पॉजीटिव मरीजों को 17 दिवस हेतु होम आइसोलेट किया जाएगा। इस बीच यदि किसी भी प्रकार के लक्षण अथवा प्रोटोकाल अनुपालन में लापरवाही परिलक्षित होती है तो उसे तत्काल कोविड-19 अस्पताल बालोद में शिप्ट किया जायेगा। 17 दिवस का होम आइसोलेशन पूर्ण होने पर यदि आखिरी के 10 दिनों में किसी भी प्रकार के लक्षण नहीं दिखाई देने पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा परीक्षण उपरान्त मरीज का होम आइसोलेशन समाप्त किया जा सकता है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि होम आइसोलेट कर उपचारित किए जाने वाले मरीजों के लिए मेडिकल टीम भी तैयार किया जा रहा है। कलेक्टर ने बताया कि कोरोना जॉच के लिए टेस्टिंग सेंटर भी बढ़ाया जा रहा है ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों की जॉच की जा सके। उन्होंने बताया कि वर्तमान में आरटीपीसीआर जॉच राज्य स्तरीय लैब में की जा रहीं हैं। जिले में पीपरछेड़ी, गुण्डरदेही और डौण्डीलोहारा में एण्टीजन टेस्टिंग केन्द्र से कोरोना की जॉच शुरू की गई है। आने वाले समय में जॉच केन्द्रों की संख्या बढ़ाई जाएगी। टुªनॉट लैब भी तैयार किया गया हैं। राज्य के विशेषज्ञयों द्वारा लैब में टेस्ट परीक्षण कर शुरू किया जाएगा। जिले में जॉच और आइसोलेशेन उपचार की सुविधा बढ़ायी जा रही है। बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी.एल. रात्रे सहित डॉ. ग्लेड और डॉ. गंजीर आदि मौजूद थे।

Share on:

Related posts

5 Thoughts to “बालोद : बिना लक्षण वाले व बिना किसी पुरानी बीमारी से ग्रसित कोरोना पॉजीटिव मरीजों को घर पर ही होम आइसोलेट रहकर उपचार और स्वास्थ्य लाभ की मिल सकती है छूट – कलेक्टर”

  1. Like!! I blog frequently and I really thank you for your content. The article has truly peaked my interest.

  2. I learn something new and challenging on blogs I stumbleupon everyday.

  3. I like this website very much, Its a very nice office to read and incur information.

  4. SMS

    Your site is very helpful. Many thanks for sharing!

Leave a Comment