बड़ी खबर विविध 

प्रशासन ने 170 साल पुरानी रथ यात्रा को किया स्थगित, घरों से भगवान जगन्नाथ की पूजा का दिया सुझाव

कोरोना संकट के चलते जिला प्रशासन ने भगवान जगन्नाथ रथ यात्रा को इस साल के लिए रोक लगा दिया है। जिले में उड़ीसा की तर्ज पर भव्य रथ यात्रा निकाली जाती थी। करीब 170 साल से जिले में रथ यात्रा निकाली जा रही थी।

लेकिन इस बार प्रशासन ने कोरोना के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए स्थगित करने का फैसला लिया है। बता दें कि पन्ना में निकाली जाने वाले रथ यात्रा काफी प्रचलित है। हजारों की संख्या में भक्त शामिल होते हैं। वहीं भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा बनाने का काम चल रहा था।

सुप्रीम कोर्ट ने पुरी में जगन्नाथ यात्रा पर लगाई है रोक
बता दें कि सुपीम कोर्ट ने पुरी में ऐतिहासिक जगन्नाथ रथ यात्रा पर रोक लगा दी है। वहीं शीर्ष कोर्ट से अपने फैसले पर पुर्नविचार करने की अपील की है। युवक के अलावा भाजपा नेता संबित पात्रा समेत 21 याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट सोमवार को सुनवाई करेगा।

इस बीच प्रशासन ने इस पर रोक लगा दी। पन्ना कलेक्टर ने रथ यात्रा को स्थगित करने का आदेश जारी करते हुए कहा कि लोग इस बार अपने घरों में ही भगवान की पूजा करें। भगवान जगन्नाथ भक्तों की हर मनोकामना पूरी करेंगे।

Share on:

Related posts

Comments are closed.