Featured Uncategorized बड़ी खबर राजनीति विविध 

पालघर कांड में नया मोड़, NCP-वामपंथी नेता भी थे मौजूद, BJP ने उठाए सवाल, सीएम योगी ने की उद्धव से बात

MAHARASTRA:महाराष्ट्र के पालघर में संतों की निर्मम हत्या को लेकर पूरे देश की सियासत गरमा गई है। भाजपा ने इस मुद्दे को लेकर उद्धव सरकार पर हमले तेज कर दिए हैं। इस बीच इस मामले में नया मोड़ आ गया है। भाजपा के राष्ट्रीय सचिव सुनील देवधर ने एक ट्वीट करते हुए घटना के समय एक एनसीपी और तीन सीपीएम नेताओं के वहां मौजूद होने की बात कही है। सुनील देवधर के इस ट्वीट के बाद भाजपा और हमलावर हो गई है और मॉब लिंचिंग की इस घटना को एक बड़ी गहरी राजनीतिक साजिश करार दिया है। विहिप ने भी इस मुद्दे को लेकर वामपंथियों की घेराबंदी की है।
देश भर में कोरोना लॉकडाउन है और इस बीच महाराष्ट्र के पालघर जिले से शुक्रवार को मॉब लिंचिंग की शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आई थी. यहां करीब 200 लोगों की भीड़ ने 2 साधु और 1 ड्राइवर को पीट-पीट कर मार डाला था. घटना को लेकर विपक्ष, उद्धव सरकार पर लगातार हमलवार है. वहीं तीन लोगों की निर्मम हत्या पर महाराष्ट्र सरकार ने कार्रवाई करते हुए 101 लोगों को हिरासत में ले लिया है. इसकी जानकारी महाराष्ट्र मुख्यमंत्री कार्यालय ने दी.

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) ने ट्वीट किया, पालघर की घटना पर कार्रवाई की गई है. जिन्होंने 2 साधु, 1 ड्राइवर और पुलिस कर्मियों पर हमला किया था, पुलिस ने घटना के दिन ही उन सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. इस अपराध और शर्मनाक कृत्य के अपराधियों को कठोर दंड दिया जाएगा.
एनसीपी का जिला पंचायत सदस्य काशीनाथ चौधरी है। उसके साथ सीपीएम के पंचायत सदस्य विष्णु पात्रा, सुभाष भावर और धर्मा भावर भी वहीं पर मौजूद थे।
वहीं UP के सीएम योगी ने महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे से फोन पर की बात साथ ही आरोपियों पे कड़ी कार्यवाही की भी मांग की है।

Share on:

Related posts

Comments are closed.