छत्तीसगढ़ छत्तीसगढ़ जांजगीर-चांपा दुर्ग बस्तर बिलासपुर राजनीति रायगढ़ रायपुर सरगुजा 

छतीसगगढ़ में डेढ़ साल से इंतजार कर रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं का इंतजार अब खत्म होने को है।

पार्टी ने निगम मंडलों में नियुक्ति का फॉर्मूला तैयार कर लिया है, नामों की सूची को अंतिम रूप देने मुख्यमंत्री निवास में वरिष्ठ मंत्रियों और विधायकों की अहम बैठक हुई। जिसमें सभी को साधने वरिष्ठ विधायकों और विधानसभा अध्यक्ष चरण दास महंत को भी  बुलाया गया. बैठक में कैबिनेट मंत्री टीएस सिंह देव वीडियो कांफ्रेसिंग से जुड़े तय फॉर्मूले के आधार पर सरकार 20 निगम मण्डलों के साथ 11 संसदीय सचिव बनाने जा रही है। जिसमें नए विधायकों को मौका दिया जाएगा। निगमों में सामाजिक नेताओं के साथ जन संगठनों से जुड़े नेताों को भी जगह मिलेगी।

कांग्रेस की इस कवायद को बीजेपी ने अपनी उधेड़बुन बताकर सवाल उठाए हैं, बीजेपी के मुताबिक कांग्रेस सरकार को कोरोना महामारी की बजाय अपने कुनबे की ज्यादा चिंता है।

15 साल बाद कांग्रेस को सत्तासीन करने में योगदान देने वाले नेता पिछले डेढ साल से   सत्ता में भागीदारी का इंतजार कर रहे थे। लेकिन एक के बाद एक चुनाव और कोरोना महामारी के कारण नियुक्ति टलने से नेताओं में असंतोष की खाई गहरी होती जा रही थी। जिसे मुख्यमंत्री भूपेघ बघेल ने समय रहते भांप लिया। अब मैराथन मंथन के बाद सूची तैयार है, नियुक्ति होने में आने वाले दिनों में बस आलाकमान की मुहर का इंतजार रहेगा।

Share on:

Related posts

Leave a Comment