शिक्षक के अभाव में पालकोंऔर छात्रों ने स्कूल गेट मेंजड़ा ताला

शिक्षक के अभाव में पालकों ने जड़ा ताला

महासमुंद।(रफ्तार न्यूज़)।महासमुंद जिले के सरायपाली ब्लॉक अंतर्गत शासकीय प्राथमिक शाला कस्तूराबहाल मैं फिर एक बार बालकों द्वारा स्कूल में ताला जड़ दिया गया इससे पहले भी शासकीय उच्च प्राथमिक शाला सिंघोड़ा में ताला जड़कर प्रदर्शन किया गया था कस्तूरा बहाल के बच्चों के पालकों का यह आरोप है कि यहां के शिक्षक को घुचापाली शासकीय प्राथमिक शाला मैं व्यवस्था कर दी गई है जबकि शासकीय प्राथमिक शाला कस्तूरबा हाल में ही शिक्षक के कमी के वजह से बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है आगामी कुछ दिनों बाद वार्षिक परीक्षा आने वाली है जिससे बच्चों की पढ़ाई की व्यवस्था को देखते हुए पालक में द्वारा शिक्षक वापसी को लेकर स्कूल में ताला जड़ दिया गया एवं शिक्षा विभाग हाय हाय के नारे लगाए गए।
मौके में पहुंचकर विकास खंड शिक्षा अधिकारी द्वारा आश्वासन दिया गया कि कुछ दिन बात शिक्षक की व्यवस्था कर दी जाएगी लेकिन ग्रामीणों ने एक भी नहीं सुनी और साफ-साफ यह कह दिया कि जब तक शिक्षा की व्यवस्था नहीं की जाती तब तक काला नहीं खुलेगा एवं ग्रामीणों द्वारा आरोप लगाया गया कि शिक्षा विभाग द्वारा अगर ग्रामीण क्षेत्र के शिक्षा व्यवस्था चरमरा जाती है तो ग्रामीण क्षेत्र के ही किसी स्कूल से शिक्षक की व्यवस्था की जाती है जबकि सरायपाली परी क्षेत्र अंतर्गत जहां 2 से 3 किलोमीटर लगे हुए ग्राम एवं शासकीय स्कूल हैं वहां बच्चों की दर्ज संख्या से कहीं अधिक शिक्षक उपस्थित हैं शिक्षा विभाग चाहे तो उन शिक्षकों को स्थानांतरण करते हुए ग्रामीण क्षेत्र में भेज कर शिक्षा व्यवस्था सुधारी जा सकती है परंतु किस कारण व शिक्षा विभाग के उच्च अधिकारी ऐसा करना नहीं चाहते हैं यह तो वही बता सकते हैं जब भी ग्रामीण अंचल के शासकीय स्कूलों में धरना प्रदर्शन शिक्षा व्यवस्था शिक्षक के अभाव में किया जाता है तो शिक्षा विभाग के उच्च अधिकारी द्वारा सिर्फ आश्वासन ही दिया जाता है और कुछ भी नहीं इस बात को लेकर जब मीडिया की टीम ने विकास खंड शिक्षा अधिकारी महोदय जी से अच्छा व्यवस्था के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि कुछ दिन में व्यवस्था कर दी जाएगी अब देखना होगा कि कब तक शिक्षा विभाग के उच्चाधिकारियों की आंखें खुलती है एवं शासकीय प्राथमिक शाला कस्तूराबहाल मैं शिक्षक की व्यवस्था की जाती है क्योंकि इससे पहले भी शिक्षा विभाग के लापरवाही देखी जा चुकी है जब की कुछ दिन पूर्व इसी तरह से शासकीय उच्च प्राथमिक शाला सिंघाड़ा मैं भी शिक्षक के व्यवस्था को लेकर आंदोलन एवं प्रदर्शन किया गया था अब देखना होगा कि कब तक इस तरह से ग्रामीण क्षेत्र में बच्चों के पलकों द्वारा एवं ग्रामीणों द्वारा शिक्षा व्यवस्था की लापरवाही के चलते अपना सारा कामकाज छोड़कर स्कूल बंद करने को मजबूर रहेंगे
संदीप अग्रवाल
ब्यूरो चीफ, रफ्तार न्यूज़
महासमुन्द जिला
7697181000

Share on:

Related posts

One Thought to “शिक्षक के अभाव में पालकोंऔर छात्रों ने स्कूल गेट मेंजड़ा ताला”

  1. You have observed very interesting points! ps nice web site. “To grow mature is to separate more distinctly, to connect more closely.” by Hugo Von Hofmannsthal.

Leave a Comment